शुक्रवार, 20 फ़रवरी 2015

बुलबुल के बच्चे

बुलबुल के थे अण्डे तीन
उनसे निकले बच्चे तीन
माँ समझे नादान अभी तक
Image result for बुलबुल और बच्चेलेकिन वे हैं बडे जहीन ।

कल तक देख नही पाते थे
चीं चीं ची चीं चिचियाते थे
लेकिन आज इरादे उनके
उड जायें लंका या चीन ।

पडने लगा घोंसला छोटा
दाने-दुनके का भी टोटा
माता-पिता चुगाते दिनभर
खाने के बेहद शौकीन ।

कोई भी आहट जब आती
गर्दन तान फुलाते छाती
खतरों से डरना छुप रहना
लगे उन्हें अपनी तौहीन।

   चित्र--गूगल से साभार  

2 टिप्‍पणियां: